News Headlines
Search

रामा-रामा, रामदेव का ये कैसा ड्रामा!

511

केंद्र सरकार के खिलाफ रामदेव ने खोला मोर्चा, बेरोजगारी पर उठाए सवाल

भोपाल
पूर्व में केंद्र में रही कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में रामलीला मैदान प्रदर्शन के बाद हुई करवाई से बचने के लिए बाबा रामदेव महिलाओं के सूट पहनकर भागे थे जौलीग्रांट एयरपोर्ट की ओर। अब मोदी सरकार के पांच साल पूरे होने को हैं। पिछले 4 सालों में बाबा रामदेव ने कभी बेरोजगारी के मुद्दे पर बात नहीं की। देश के लोगों की चिंता जायज भी है, लेकिन रामदेव का सवाल उठाने में थोड़ा संशय जरूर है।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में योग गुरू बाबा रामदेव ने मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए एक बड़ा बयान दिया है। आज तक मोदी सरकार के समर्थन में खड़े रहे योग गुरु बाबा रामदेव ने केंद्र और राज्य सरकारों को रोजगार के मुद्दे पर घेरा हैं। योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि बेरोजगारी, भूखमरी, गरीबी भारत माता के माथे पर कलंक है। इस समय पूरे देश में बेरोजगारी एक बड़ा प्रश्न है। केंद्र और राज्य सरकारें इस दिशा में काम नहीं कर पा रही हैं वो इस क्षेत्र में विफल साबित हुई हैं। वहीं उन्होंने अपनी पतंजलि को लेकर दावा किया कि वो लगातार नौकरियां दे रहे हैं। बाबा रामदेव ने पतंजलि को लेकर बताया कि पिछले एक महीने में अगर सेल्स डिपार्टमेंट की बात करें तो 11 हजार लोगों को नौकरियां दी गई हैं।
उन्होंने कहा कि पतंजलि लगातार इस क्षेत्र में काम कर रहा है और लोगों को रोजगार देने का काम कर रहा है। वहीं उन्होंने दावा किया कि आने वाले समय में भी लोगों के लिए रोजगार दिया जाएगा। हालांकि, बाबा रामदेव ने सीएम शिवराज की जनआशीर्वाद यात्रा पर भी कोई बयान देने से इनकार कर दिया। स्वामी अग्निवेश पर हमले की घटना से संबंधित प्रश्न पर बाबा रामदेव ने कहा कि इस तरह हमला-पिटाई शोभनीय नहीं है।
बता दें कि इससे पहले भी बाबा रामदेव पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों पर सवाल उठा चुकें हैं। एक तरफ विपक्ष सरकार को बेरोजगारी और अन्य मुद्दों पर घेर रहा है वहीं अब बाबा रामदेव भी विपक्ष के समर्थन में खड़े दिखाई दे रहे हैं। अब देखना यह है कि बाबा रामदेव की ये लड़ाई सरकार के खिलाफ कब तक रहेगी।


वहीं दूसरी ओर पुख्ता सूत्र बताते हैं कि रामदेव मोदी व उनकी पार्टी को 2019 में होने जा रहे लोकसभा चुनाव में कई हजार करोड़ का चंदा, मदद देने जा रहे हैं। ऐसे में, रामा, रामा क्या है ये ड्रामा ईश्वर ही जानें।




6 thoughts on “रामा-रामा, रामदेव का ये कैसा ड्रामा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *